June 13, 2021

Diamondonenews

All in one

stock market happy Sensex gained 975 points Nifty jumped 269 points

 शुक्रवार को बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 975.62 अंक या 1.97 फीसदी की तेजी के साथ दिन के अंत में 50,540.48 पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 269.25 (1.81%) अंक उछलकर 15,175.30 के स्तर पर पहुंच गया. सेंसेक्स के 30 में से 28 शेयर हरे निशान पर बंद हुए। वहीं निफ्टी 50 के 45 शेयर बढ़त और 5 नुकसान के साथ बंद हुए। मिडकैप इंडेक्स आज के कारोबार में रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ। बीएसई में सभी सेक्टर इंडेक्स में तेजी देखी गई है। बैंकिंग, फाइनेंस शेयरों में जोरदार तेजी रही। वित्तीय क्षेत्र के दिग्गज एचडीएफसी, आईसीआईसीआई और कोटक महिंद्रा बैंक ने लाभ में महत्वपूर्ण योगदान दिया और बाजार 10 सप्ताह के उच्च स्तर पर बंद हुआ। वहीं, बैंक निफ्टी 2 महीने के ऊपरी स्तर पर बंद हुआ।

निफ्टी के टॉप गेनर की बात करें तो एसबीआई 5.04 फीसदी उछलकर 404 रुपये पर बंद हुआ। एसबीआई के शेयरों में उछाल इसकी चौथी तिमाही के नतीजों से आया है। वहीं निफ्टी टॉप गेनर में एचडीएफसी बैंक, इंडसइंड बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के शेयर रहे। ग्रासिम, पावरग्रिड, आईओसी, आयशर मोटर्स और डॉ रेड्डीज हारने वालों की सूची में थे।

देखें कि सेंसेक्स में उछाल में किन कंपनियों का योगदान रहा

शेयर नवीनतम कीमत रुपये में वृद्धि/गिरावट संख्या में सेंसेक्स में योगदान
एचडीएफसी बैंक 1,497.00 64.15 239.45
आईसीआईसीआई बैंक 642.45 २३.९ 151.25
एचडीएफसी २,५१५.७० 70.65 ११६.५६
ऐक्सिस बैंक 730.7 २४.८ 59.8
KOTAKBANK 1,757.55 49 58.65
एसबीआईएन 401.1 १६.५५ 58.15
सूचना 1,354.70 15.25 51.15
भरोसा 2,000.90 15.6 46.17
भारतीर्तली 530.9 10.2 22.41
INDUSINDBK 1,016.25 40.75 २१.१९
टीसीएस 3,080.400.4 20.4 19.34
आईटीसी 209.05 2.05 १६.३९
एशियनपेंट २,८३२.३० 37.1 15.31
पावर ग्रिड 228.1 -0.8 -1.88
DRREDDY 5,216.75 -19.55 -2.18

सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो बैंक निफ्टी 3.82 फीसदी, ऑटो 0.84 फीसदी, निफ्टी फाइनेंशियल सर्विसेज 3.21 फीसदी, एफएमसीजी 0.62 फीसदी, आईटी 0.81 फीसदी, मीडिया 0.99 फीसदी, निफ्टी मेटल 0.43 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ. वहीं निफ्टी फार्मा 0.17, निफ्टी पीएसयू बैंक 3.80, प्राइवेट बैंक 3.62, निफ्टी रियल्टी में 1.15 फीसदी की बढ़त रही।

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि मुख्य रूप से वित्तीय कंपनियों के मजबूत शेयरों के कारण बाजार में तेजी आई। उन्होंने कहा, ‘बाजार को एसबीआई समेत वित्तीय सेवा कंपनियों के बेहतर नतीजों और फंसे कर्ज की स्थिति में सुधार की रिपोर्ट से समर्थन मिला।’ फिर से कोविड-19 संक्रमण के मामले में दैनिक आधार पर कमी से वित्तीय कंपनियों का भरोसा भी बढ़ा, जिसका असर बाजार पर पड़ा. दवा कंपनियों को छोड़कर सभी क्षेत्रों में खरीदारी देखी गई।

मोदी के मुताबिक, कहा जा रहा था कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर मई के अंत या जून के मध्य तक चरम पर होगी। यह सही लगता है। इसका प्रभाव 2021-22 की पहली तिमाही से आगे नहीं बढ़ना चाहिए। इन सभी निवेशकों में विश्वास बढ़ रहा है। अन्य एशियाई बाजारों में, शंघाई और सियोल नकारात्मक क्षेत्र में रहे, जबकि टोक्यो और हांगकांग लाभ के साथ बंद हुए। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख देखा गया। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.84 प्रतिशत बढ़कर 65.66 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

रुपया 29 पैसे की तेजी के साथ 72.83 प्रति डॉलर पर बंद हुआ

डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार को मजबूत हुआ और डॉलर के मुकाबले 29 पैसे बढ़कर 72.83 (अनंतिम) पर कारोबार किया, विदेशी मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर में कमजोरी के बीच घरेलू इक्विटी में बढ़त पर नज़र रखी। डॉलर सुबह 72.98 पर खुला और दिन में 72.83-73.09 के बीच बढ़त देखी गई। कारोबार के अंत में रुपये का विनिमय दर पिछले बंद से 29 पैसे मजबूत होकर 72.83 रुपये प्रति डॉलर हो गया। गुरुवार को डॉलर का बंद भाव 73.12 था।

.

Source link