June 13, 2021

Diamondonenews

All in one

IAS Success Story Started Preparing For UPSC After High School Vaibhav Gondane Became IAS In First Attempt

IAS टॉपर वैभव गोंडाने की सफलता की कहानी: यूपीएससी में सफल होने वाले ज्यादातर उम्मीदवार सालों के संघर्ष के बाद अपने मुकाम तक पहुंच पाते हैं। इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत और धैर्य की आवश्यकता होती है। आज हम आपको वैभव गोंडाने की कहानी बताएंगे, जो यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2018 में अखिल भारतीय रैंक 25 हासिल करके आईएएस अधिकारी बने। महज 22 साल की उम्र में वैभव ने सिविल सेवा के अपने सपने को पूरा किया। इसके लिए उन्होंने हाई स्कूल के बाद ही तैयारी शुरू कर दी थी। सालों की तैयारी के बाद उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में सफलता हासिल की।

मोटिवेशन बहुत जरूरी है
मूल रूप से पुणे, महाराष्ट्र के रहने वाले वैभव का मानना ​​है कि यूपीएससी की तैयारी करने वाले लोगों के लिए मोटिवेशन होना बहुत जरूरी है। सेल्फ मोटिवेशन की मदद से आप यहां सालों तक अपने लक्ष्य पर फोकस कर पाएंगे। उनका मानना ​​है कि यहां हल्की पढ़ाई से काम नहीं चलता, लेकिन आपको पूरी तरह से तैयार होकर यूपीएससी की तैयारी करनी होगी। तैयारी के लिए आपको एक बेहतर रणनीति भी बनानी होगी।

ऐसे करें तैयारी Prepare
वैभव का मानना ​​है कि आप यूपीएससी की तैयारी 50-50 के फॉर्मूले से कर सकते हैं। उनके अनुसार 50 प्रतिशत तैयारी पठन-पाठन से और 50 प्रतिशत तैयारी नोट्स मेकिंग, उत्तर लेखन, मॉक टेस्ट और अखबार से की जा सकती है। कुल मिलाकर अगर आप अपनी तैयारी को दो भागों में बांटेंगे तो आप बेहतर तैयारी कर पाएंगे। उनका यह भी मानना ​​है कि हमें अपने आस-पास होने वाली हर चीज पर भी नजर रखनी चाहिए।

दिल्ली नॉलेज ट्रैक पर यहां देखें वैभव गोंडाने का इंटरव्यू

अन्य उम्मीदवारों को वैभव की सलाह
वैभव का मानना ​​है कि एक बार जब आप तय कर लें कि आपको यूपीएससी की तैयारी करनी है, तो इसे अपनी प्राथमिकता बनाएं। सिलेबस के अनुसार स्टडी मटेरियल तैयार कर शेड्यूल बनाएं और स्टडी में शामिल हो जाएं। वे कहते हैं कि हर चीज को इतनी गहराई से पढ़ो कि दोबारा करने की जरूरत ही न पड़े। यदि आप ईमानदारी से धैर्य रखते हैं और यूपीएससी की तैयारी करते हैं, तो आप इस परीक्षा को पहले प्रयास में पास कर सकते हैं।

.

Source link