June 13, 2021

Diamondonenews

All in one

Try these 6 home remedies to get dandruff free hair

सर्दियों में बाल झड़ना, गिरना या रूसी होना एक बहुत ही आम समस्या हो गई है। हममें से अधिकांश लोगों ने अपने जीवन में कभी न कभी इस समस्या का सामना किया है। इसके लिए काफी हद तक हमारी जीवनशैली और खानपान भी जिम्मेदार है। हालांकि, डैंड्रफ होने के पीछे कई कारण होते हैं।

सर्दी के मौसम में सिर की त्वचा के रूखे होने से डैंड्रफ जल्दी हो जाता है। यह हमारे बालों के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है। इससे बाल झड़ने और टूटने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इससे बाल भी जल्दी सफेद होने लगते हैं। साथ ही डैंड्रफ भी गंजेपन का कारण बन सकता है। ऐसे में इसके बारे में जानना बेहद जरूरी है। इसकी पूरी जानकारी हम आपको देंगे। साथ ही समस्या से निजात पाने के लिए कुछ टिप्स साझा करेंगे।

डैंड्रफ क्या है?

अपने स्कैल्प और बालों की ठीक से देखभाल न करना, साथ ही शरीर में विटामिन और मिनरल्स की कमी के कारण हमारे सिर की कोशिकाएं बेजान होने लगती हैं। ये मृत कोशिकाएं धीरे-धीरे सिर पर रूसी या रूसी के रूप में दिखाई देने लगती हैं।

बालों में रूसी होने के कारण

बालों में रूसी होने के कई कारण होते हैं। खुजली पैदा करना, बालों का टूटना, हानि और गंजापन जैसी समस्याएं हो सकती हैं। जो हमारे बालों के लिए काफी हानिकारक हो सकता है।

खोपड़ी का सूखापन, बालों में सूखापन या खुजली भी रूसी का कारण बनती है।

बालों में कई दिनों तक तेल न लगाएं, बाल रूखे हो जाते हैं।, जिससे डैंड्रफ हो सकता है। बिना इसके

गैर-पौष्टिक आहार

शरीर में प्रोटीन और विटामिन की कमी

अधिक रासायनिक उत्पादों का उपयोग

सिर धोने के लिए शैम्पू का इस्तेमाल न करें

मानसिक तनाव भी डैंड्रफ का एक प्रमुख कारण है।

अगर आप त्वचा संबंधी किसी रोग से गुजर रहे हैं, तो इससे आपको डैंड्रफ की समस्या हो सकती है।

बाल झड़ना

इस समस्या को कैसे दूर कर सकते हैं

1 एलोवेरा जेल का प्रयोग

एलोवेरा एक रसीला पौधा है, जो अपने उपचार गुणों के लिए जाना जाता है। इसकी पत्तियों के जेल में कई जैव सक्रिय यौगिक होते हैं (जैव सक्रिय यौगिक) के होते हैं, जैसे अमीनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट, जो डैंड्रफ को कम कर सकता है। 2015 शोध से पता चलता है कि एलोवेरा में मौजूद एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण डैंड्रफ से बचा सकते हैं

2 लेमनग्रास ऑयल

लेमनग्रास ऑयल में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो डैंड्रफ के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है। 2015 में प्रकाशित एक छोटे से अध्ययन के निष्कर्षों के अनुसार, हेयर टॉनिक में दो सप्ताह के बाद 10 प्रतिशत लेमनग्रास ऑयल डैंड्रफ को कम करता है ८१ प्रतिशत घट गया।

3 चाय के पेड़ की तेल

टी ट्री ऑयल में टेरपीनिन4-ओल (टेरपिनन-4-ओएल) यौगिक कहलाता है, शक्तिशाली रोगाणुरोधी गुण होते हैं (रोगाणुरोधी गुण) होता है। टेरपीनन-4-राजभाषा (टेरपिनन-4-ओएल) टी ट्री ऑयल की उच्च मात्रा खोपड़ी पर फंगल बैक्टीरिया के विकास को दबाने और रूसी को कम करने में मदद कर सकती है।

2017 विभिन्न आवश्यक तेलों के रोगाणुरोधी प्रभावों की समीक्षा की है (रोगाणुरोधी प्रभाव) की जाँच की। लेखकों ने सुझाव दिया कि चाय के पेड़ के तेल में मौजूद यौगिकों का प्रभावी ढंग से एस। एपिडर्मिडिस (स्तवकगोलाणु अधिचर्मशोथ) बैक्टीरिया को नियंत्रित कर सकते हैं।

बालों के लिए दही

4 बालों में दही लगाएं

बालों से डैंड्रफ दूर करने के लिए दही बहुत फायदेमंद होता है। दही को बालों और स्कैल्प पर लगाने से डैंड्रफ की समस्या काफी कम हो जाती है। आप एक कटोरी दही लें और इसे बालों की जड़ों और स्कैल्प पर लगाएं और अच्छे से मसाज करें। 1 से 2 इसे अपने बालों में घंटों तक लगा रहने दें और फिर बालों को शैंपू से अच्छी तरह धो लें। इससे बालों की रूसी कम करने में मदद मिलेगी।

5 अच्छे शैम्पू का इस्तेमाल करें

बाजार में आपको कई तरह के शैंपू मिल जाएंगे। इसलिए डैंड्रफ को दूर करने के लिए आपको किसी अच्छी कंपनी से एंटी डैंड्रफ लेना चाहिए।रूसी रोधक) शैम्पू का इस्तेमाल किया जा सकता है। हफ्ते में 1 से 2 अपने बालों को बार शैम्पू से धोएं। इससे ज्यादा इसका इस्तेमाल न करें। क्योंकि ज्यादा इस्तेमाल से यह आपके बालों के लिए हानिकारक हो सकता है।

6 बेकिंग सोडा से बाल धोएं

बालों से डैंड्रफ दूर करने में बेकिंग सोडा काफी मददगार साबित हो सकता है। थोड़ा सा बेकिंग सोडा लें और इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं, साथ ही इसे बालों की जड़ों में लगाएं। इसे अपने स्कैल्प पर हल्के हाथ से मलें। इसे कुछ देर ऐसे ही छोड़ दें और फिर हल्के गुनगुने पानी से बालों को अच्छी तरह धो लें।

Source link